Sunday, September 6, 2015

देखिए सुबह की इस सैर में नियाग्रा जलप्रपात का अद्भुत सौंदर्य Let's go on a morning walk to Niagara Falls !

नियाग्रा के जलप्रपात से जुड़ी इस श्रंखला की पिछली कड़ी में आपने पढ़ा कि हम अपने समूह के साथ कैसे पहुँचे नई दिल्ली से नियाग्रा जलप्रपात तक और रात में नियाग्रा का जलप्रपात और आसमान में हुई आतिशबाजी हमें अपने कितने मनोहारी रूप दिखा गई। पर जैसे ही रात बीती अगली सुबह मैं और मेरे मित्र फिर तैयार थे नियाग्रा जलप्रपात का सुबह का रूप देखने के लिए। उत्साह का आलम ये था कि नई दिल्ली और नियाग्रा के बीच साढ़े नौ घंटे के समय का अंतर jet lag के रूप में हमें छू भी नहीं सका था। 

सुबह छः बजते बजते हम बाहर निकलने के लिए तैयार थे। कमरे के बाहर से दिखते कैसीनो की ऊँची इमारत की बगल से सूर्य देव भी पूरी गोलाई के साथ दर्शन दे चुके थे।
Early morning at Niagara Falls  कैसीनो के ऊपर से अपनी झलक दिखलाते सूर्य देव
सूर्य किरणें नियाग्रा शहर पर धीरे धीरे ही फैल रही थीं।नियाग्रा फॉल्स वैसे ही एक शांत  शहर है। शहर के केंद्र में होने के बावज़ूद सड़क पर चहल पहल ना के बराबर थी। हमारे होटल के आस पास के इलाकों में ज्यादातर होटल व रेस्टॉरेंट  थे। रेस्टॉरेंट के खुलने का तो सवाल ही नहीं था। हाँ इक्का दुक्का गाड़ियाँ जरूर बीच बीच में ये अहसास दिला जाती थीं कि कुछ लोगों के लिए ही सही, भोर हो गई है।

Morning view : City of Niagara Falls
नियाग्रा के जलप्रपात की ओर पहले ना जाकर क्लिफ्टन हिल के इलाके से उस सेतु तक पहुँचे जो कनाडा को अमेरिका से जोड़ता हैं। अपने इंद्रधनुषीय आकार की वज़ह से ये पुल रेनबो ब्रिज के नाम से जाना जाता है। पहले इसी स्थान पर एक पुल हुआ करता था जिसका नाम हनीमून ब्रिज था। 1938 में आए तूफान में बर्फ का ऊँचा ढेर  इस पुल से टकराया और उसे तहस नहस कर चलता बना। उसके बाद रेनबो ब्रिज बना। पुल के दूसरी तरफ अमेरिका के न्यूयार्क का इलाका पड़ता है। अगर आपके पास कनाडा का पासपोर्ट हो तो आप बड़े मज़े से पुल पार कर अमरीका जा सकते हैं। वैसे आधा किमी लंबे इस पुल को अगर पैदल या साइकिल से पार करें तो आपको आधा डॉलर तो खर्च करने ही पड़ेंगे । यानि यहाँ पैदल चलने वालों को भी टॉल देना पड़ता है। अब उनके लिए अलग से सड़क भी तो बनाई है इन्होंने।

Rainbow Bridge : Connecting Canada with US कनाडा और अमेरिका को जोड़ने वाला रेनबो ब्रिज
रेनबो ब्रिज (Rainbow Bridge) से नियाग्रा नदी के किनारे किनारे सड़क चलती है जिसे रिवर रोड (River Road) के नाम से जाना जाता है। नदी में क्रूज का आनंद लेना हो तो फिर इस सड़क के नीचे की ओर जाते मार्ग से नदी तक उतरना पड़ता है। 

वैसे क्या आपको मालूम है कि नियाग्रा के जलप्रपात तीन अलग अलग झरनों से मिल कर बने हैं। कनाडा की तरफ मुख्यतः पड़ने वाला घोड़े की नाल की आकार का झरना यानि हार्स शू फॉल  नियाग्रा की पहचान है। रिवर रोड पर चलकर आप इससे करीब पाँच मीटर की दूरी तक पहुँच सकते हैं।

Niagara Falls नियाग्रा जलप्रपात

वहीं अमेरिका की तरफ़ दो झरने हैं बड़ा वाला झरना अमेरिकन फॉल्स (American Falls) के नाम से जाना जाता है। इसके ठीक बगल में एक बेहद छोटा द्वीप है जिसे लूना द्वीप (Luna Island) का नाम दिया गया है। लूना द्वीप के दूसरी तरफ़ Bridal Veil Falls है। अमेरिका की ओर से इन झरनों को देखने के लिए गोट आइलैंड (Goat Island) तक जाना होता है जो अमेरिकन फॉल्स और हार्स शू फॉल के बीच में स्थित है।

American side of falls

वैसे बकरी के नाम पर पड़े इस द्वीप का प्रयोग सिर्फ पर्यटन के लिए होता है। किसी ज़माने में इस द्वीप के मालिक के पास बकरियाँ होती थीं जिन्हें वो इस द्वीप पर रखा करता था। एक बेहद तकलीफ़देह जाड़े के मौसम के बाद वो जब इस द्वीप पर लौटा तो एक बकरी को छोड़कर सारी बकरियाँ ठंड की मार से काल कलवित हो चुकी थीं। तभी से इस द्वीप का नाम बकरियों के नाम से पड़ गया। अमेरिकन फॉल्स और हार्स शू फॉल से उठते जलवाष्प पर पर जब धूप की किरणें पड़ती  हैं तो अक्सर यहाँ इ्द्रधनुष का निर्माण हो जाता है। नियाग्रा के पास रहते हुए मैंने ये मंज़र दो बार देखा।

Horse Shoe Falls, Niagara हार्स शू फॉल, नियाग्रा
हम लोग नदी के सामानांतर चलते हुए हार्स शू फॉल की ओर बढ़ रहे थे। रोड की दूसरी तरह क्वीन विक्टोरिया पार्क (Queen Victoria Park ) का हरा भरा इलाका शुरु हो चुका था।

A viewpoint near Rainbow Bridge

चारों ओर नर्म घास की चादर बिछी हुई थी। हरे भरे पेड़ों के बीच नारंगी और जामुनी रंग के पत्तों वाले पेड़ दृश्य को और मोहक बना रहे थे। पिछली रात को अँधेरे के चलते हम प्रकृति के इस रूप को देखने से वंचित हो गए थे।
Queen Victoria Park

हृदय तो वैसे भी पहले से प्रफुल्लित था। इस बैंगनी गुलाबी फूलों से भरे पेड़ का सानिध्य मेरा मन मयूर भी नाच उठा। नतीजा सामने है :)

Enjoying the beauty of nature at Queen Victoria Park
हम हार्स शू फॉल के करीब आते जा रहे थे। अब रोड के बाँयी तरफ़ डैफोडिल्स के फूलों की कतार आ गई थी जिनके बीच से दोनों झरने और भी खूबसूरत लग रहे थे..

Horse Shoe Fall

American and Bridal Veil Falls
जलप्रपात जैसे जैसे पास आ रहा था पानी की फुहारें तेज़ हो रही थीं। कुछ ही देर में हम सड़क के उस हिस्से पर आ गए जो इस फुहार से दिन भर गीली ही रहती है।

Mist from Horse Shoe Fall

धूप अब पहले से तेज़ हो चुकी थी। नीले आकाश के समक्ष नियाग्रा की ये गगनचुंबी इमारतें चमकदार धूप में और निखर उठी थीं ।

नियाग्रा  की गगनचुम्बी इमारतें Niagara's Skyline
वैसे तो नियाग्रा फॉल के आस पास दो तीन मशहूर रेस्त्राँ हैं पर Edgewater Restaurent इनमें सबसे पुराना है और जलप्रपात के ठीक सामने भी.

Edgewater Restaurant with Skylon Tower in background

होटल से निकले हुए हमें दो घंटे हो चुके थे। वापस लौटकर कार्यालय के काम से फिर निकलना था। सो चलते चलते एक बार फिर जलप्रपात की छवियाँ कैमरे में क़ैद कीं।
सूर्य किरणों से नहाता Horse Shoe Fall

चलते चलते अमेरिकन फॉल्स की आख़िरी झलक American Falls
अगली सुबह हमने दूसरी राह पकड़ते हुए मैंने  नियाग्रा नदी के उस हिस्से का रुख किया जहाँ से नदी ऊँचाई से नीचे की ओर गिरती है यानि वही जगह जहाँ शर्मीला टैगोर और शम्मी कपूर की हिंदी फिल्म An Evening in Paris का क्लाइमेक्स फिल्माया गया था।। कैसा था वो अनुभव  बताएँगे इस श्रंखला की अगली कड़ी में..

नियाग्रा की श्रंखला में अब तक 

अगर आपको मेरे साथ सफ़र करना पसंद है तो फेसबुक पर मुसाफ़िर हूँ यारों के ब्लॉग पेज पर अपनी उपस्थिति दर्ज़ कराना ना भूलें। मेरे यात्रा वृत्तांतों से जुड़े स्थानों से संबंधित जानकारी या सवाल आप वहाँ रख सकते हैं।

14 comments:

  1. बहुत अच्छा वृत्तांत और फोटो ।
    लेकिन बहुत इतंजार करवाते है।

    ReplyDelete
    Replies
    1. हफ्ते भर का इंतज़ार इतना ज्यादा तो नहीं..वैसे भी कार्यालय की व्यस्तताएँ लिखने का मौका सप्ताहांत में ही दे पाती हैं। पोस्ट पसंद करने के लिए शुक्रिया !

      Delete
  2. इस प्रपात की लगभग ऊचाई कितनी होगी?

    ReplyDelete
    Replies
    1. Horse Shoe Fall की ऊँचाई करीब 57 मीटर है जबकि अमेरिकन फॉल की बीस से तीस मीटर पर ऊँचाई से कहीं ज्यादा Horse Shoe Fall की लगभग आठ सौ मीटर की चौड़ाई और भारी मात्रा में नीचे गिरता जल इसके दर्शन को अलौकिक बना देता है।

      Delete
  3. बहुत खूबसूरत तसवीरें मनीष जी ! निआग्रा के विषय में बहुत कुछ लिखा है आपने और तसवीरें बहुत ही शानदार !!

    ReplyDelete
    Replies
    1. पसंदगी के लिए शुक्रिया योगी :)

      Delete
  4. Prakriti ke jitne rang hai sare achhe hai...tooo beautiful images

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thx Vandana ..happy that you liked the pictures.

      Delete
  5. नियाग्रा वाटर फॉल से भीगी हुई सड़क काफी आनंददायक लग रही है,इतनी शांति भरी जगह है नियाग्रा फॉल जानकर आश्चर्य हुआ,फोटोज तो जबदस्त हैं ही

    ReplyDelete
    Replies
    1. सुबह का समय है इसलिए शांति तो रहेगी ही। दिन व शाम को अपेक्षाकृत ज्यादा लोग दिखते थे। जलप्रपात की ओर से आती ठंडी फुहारों में नहाने के लिए सिर्फ दो मिनट काफी होते हैं इसलिए ये सड़क हमेशा गीली ही रहती है।

      Delete
  6. बेहद खूबसूरत तस्वीरें एक से बढकर एक
    बहुत दिनों बाद आना हुआ ब्लॉग पर प्रणाम स्वीकार करें

    संजय भास्कर

    ReplyDelete
    Replies
    1. शुक्रिया एक अंतराल के बाद पुनः पधारने के लिए।

      Delete
  7. आपके ब्लोग पढते हुए अैसा लगता है जैसे कि हम भी आप के साथ एक ही स्थान पर मौजूद है। घर बैठे हमें भी यात्रा कराने के लिए धन्यवाद।

    ReplyDelete
    Replies
    1. आप लोग जब ऐसा कहते हैं तो लगता है कि मैं अपने प्रयास में सफल हो रहा हूँ :)

      Delete

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails