Tuesday, September 22, 2009

आइए देखें भितरकनिका की चित्रात्मक झाँकी : हरियाली और वो रास्ता ...

भितरकनिका राष्ट्रीय उद्यान से डाँगमाल पहुँचने का अपना यात्रा वृत्तांत इस श्रृंखला की पिछली दो प्रविष्टियों में समेट चुका हूँ पर इससे पहले डाँगमाल द्वीप (Dangmal Island) और फिर इकाकुला के समुद्री तट की ओर आपको ले चलूँ मैनग्रोव के जंगलों के बीच से की गई नौका यात्रा की चित्रात्मक झाँकी..

नीला आकाश, हरे भरे मैनग्रोव और डेल्टाई इलाके का मटमैला जल तीनों समानांतर पट्टियों में चलते हैं इस राष्ट्रीय उद्यान में।


नदी की बहती धारा पर वृक्ष की ये झुकती शाखाएँ उसके सौंदर्य से इस कदर मंत्रमुग्ध हैं मानो कह रही हों..छू लेने दे नाज़ुक होठों को कुछ और नहीं हैं जाम हैं ये...


क्या इस चित्र को देख कर भारत का आर्थिक सामाजिक परिदृश्य नहीं कौंध जाता यानि ऊपर ऊपर हरियाली और पर पेड़ के इस ऊपरी हिस्से को अपने हृदय से सींचती उसके नीचे की शाखाएँ सूखी।



और जब ये शाखाएँ ही दम तोड़ दें तब....


तब तो पंक्षियों को यही संदेश देना होगा 'चल उड़ जा पंक्षी कि अब तो देश हुआ बेगाना...'

फिर वही शाम, वही ग़म वही तन्हाई है...

इस मोड़ से जाते हैं कुछ सुस्त कदम राहें, कुछ तेज कदम रस्ते


जंगल की शून्यता को तोड़ता बगुलों का समेवत कलरव कुछ ऍसा ही कहता प्रतीत हो रहा था..
तनहा ना अपने आप को अब पाइए जनाब
मेरे इस घर की यादें लिये जाइए जनाब :)



इस श्रृंखला में अब तक

  1. भुवनेश्वर से भितरकनिका की सड़क यात्रा
  2. मैनग्रोव के जंगल, पक्षियों की बस्ती और वो अद्भुत दृश्य

11 comments:

  1. मनोहारी दृश्य !

    धन्यवाद!

    ReplyDelete
  2. Chitro to behtareen hai hi..sath men aapke prstuti ka bada anokha andaaj hai..yatra ke vritant me kuch alag se baat-vichar daal kar use ramniy bana dete hai..jaise aaj chal ud ja re panchi wali laine...bhitarkanika rastriy udhyan ka varnana achcha laga...ab kya kahan ja rahe hai???ham intzaar kar rahe hai...

    badhayi..

    ReplyDelete
  3. सुन्दर चित्रों के साथ उतने ही सुन्दर गीत...वाह...
    नीरज

    ReplyDelete
  4. बहुत ही सुंदर चित्र, आप के इन चित्रो ने मन मोह लिया.
    धन्यवाद

    ReplyDelete
  5. Sunder Chitra aur utna hi saundar vritant...bahut achha...

    ReplyDelete
  6. वाह ! आज की तस्वीरों ने तो मन मोह लिया.

    ReplyDelete
  7. सुन्दर फोटो से सजी सुन्दर पोस्ट। आपकी बगैर इजाजत के एक फोटो तो हम ले जा रहे है जी।

    ReplyDelete
  8. That birds in the sky picture is quite beautiful.

    ReplyDelete
  9. शब्द-चित्र के वास्तविक रूप से परिचय हुआ आज..बहुत उम्दा!!

    ReplyDelete
  10. बहुत ही सुन्दर चित्र हैं और उतना ही सुन्दर है व्याख्यान |

    ReplyDelete

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails